व्यवहार के लिए योग


corporate yoga classes

मानसिक रूप से मंद बच्चो के लिए विशेष शिक्षा के माध्यम से अच्छी तरह सुव्यवस्थित किया गया है और इस बच्चो में सामान्य शिक्षा को एकीकृत किया गया है। योग द्वारा विकलांगता को शिखाने और ध्यान घाटे सक्रियता सिंड्रोम वाले मानसिक मंदता ग्रस्त बच्चो की शिक्षा के क्षेत्रमें एक सहायक के रूप में बाहर लानेकी कोशिश करते है। कृष्णामाचार्य योग मन्दिरम् (1983) की दस्तावेज एवं व्यक्ति परक सुधार रिपोर्ट में इस बच्चोके लिए अपनाए गए योग की प्रथाओ का वर्णन किया गया है। 

एक वर्ष की अवधि में रोज एक घंटे का योग कार्यक्रम अभ्यास (मध्यम मंदता के लिए हल्के) 90 मंदबुध्धि के बच्चो पर मेल नियंत्रण अध्ययन और हरकत कौशल में सामाजिक अनुकूलन के अलावा विशेष रूप से पता चल जाता है। (उमा 1989) सांस नियंत्रण के सुजाव के लिए मनो वैज्ञानिक मोहर समन्वय योग के माध्यम से बढ़ जाती है। योग के द्वारा एकाग्रहता, बुद्धि और स्मृति शक्ति को सुधार और मन पर सचेत नियंत्रण लाने के लिए संपन्न किया जाता है। मानसिक रूप से विकलांग किशोरों में प्रतिक्रिया के समय पर भवनानी (2012) का अध्ययन और भासस्त्रीका (एक घौकनी प्रकार का प्राणायाम) का तत्काल प्रभाव का अध्ययन किया है और इस तरह यौगिक श्वास तकनीक का विशेष रूप से बच्चो में न्यूरोमस्कुलर क्षमताओ में सुधार का एक प्रभावी साधन के रूप में इस्तेमाल करने का सुजाव दिया जाता है। 

Join our Membership

To avail free trial class or promo offers

Register Now